• Mobile Menu
HOME BUY COURSES
LOG IN SIGN UP

Sign-Up IcanDon't Have an Account?


SIGN UP

 

Login Icon

Have an Account?


LOG IN
 

or
By clicking on Register, you are agreeing to our Terms & Conditions.
 
 
 

or
 
 




जलियांवाला बाग स्मारक

Sun 29 Aug, 2021

समाचार में क्यों? 

  • हाल ही में,प्रधानमंत्री ने जलियांवाला बाग स्मारक के पुनर्निर्मित परिसर को राष्ट्र को समर्पित किया है।
  • इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने स्मारक में संग्रहालय दीर्घाओं का भी उद्घाटन किया है।

परीक्षा उपयोगी तथ्य 

  • जालियाँवाला बाग हत्याकांड भारत के पंजाब प्रान्त के अमृतसर में स्वर्ण मन्दिर के निकट जलियाँवाला बाग में 13 अप्रैल 1919 (बैसाखी के दिन) हुआ था।
  • आंदोलन के दो नेताओं सत्यपाल और सैफ़ुद्दीन किचलू को गिरफ्तार कर कालापानी की सजा दे दी गई। 
  • 10 अप्रैल 1919 को अमृतसर के उप कमिश्नर के घर पर इन दोनों नेताओं को रिहा करने की माँग पेश की गई थी।
  • इनकी रिहाई और रौलेट एक्ट का विरोध करने के लिए 13 अप्रैल 1919 को जालियाँवाला बाग  एक सभा हो रही थी जिसमें जनरल डायर अँग्रेज अधिकारी  ने अकारण उस सभा में उपस्थित भीड़ पर गोलियाँ चलवा दीं थी ।
  • इस घटना में  400 से अधिक व्यक्ति मारे गए और 2000 से अधिक लोग घायल हो गये थे। 
  • अमृतसर के डिप्टी कमिश्नर कार्यालय में 484 शहीदों की सूची है, जबकि जलियांवाला बाग में कुल 388 शहीदों की सूची है।