• Mobile Menu
HOME BUY COURSES
LOG IN SIGN UP

Sign-Up IcanDon't Have an Account?


SIGN UP

 

Login Icon

Have an Account?


LOG IN
 

or
By clicking on Register, you are agreeing to our Terms & Conditions.
 
 
 

or
 
 




भारत-पाक संघर्ष विराम

Fri 26 Feb, 2021

समाचार में क्यों

  • भारत और पाकिस्तान की सेनाओं की संयुक्त घोषणा के अनुसार, कश्मीर और अन्य क्षेत्रों में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर संघर्ष विराम के लिए 24-45 फरवरी की रात से ही उन सभी पुराने समझौतों को फिर से अमल में लाने पर सहमती बनी है।

परीक्षापयोगी  तथ्य

राष्ट्रीय आपातकाल (भाग XVIII, अनुच्छेद-352)

  • युद्ध, बाह्य आक्रमण और सशस्त्र विद्रोह के कारण आपातकाल को राष्ट्रीय आपातकाल के नाम से जाना जाता है।
  • आपातकाल की घोषणा युद्ध अथवा बाह्य आक्रमण के आधार हो तो इसे बाह्य आपातकाल के नाम से जाना जाता है।
  • मूल संविधान में ‘सशस्त्र विद्रोह’ की जगह ‘आंतरिक अशांति’ शब्द का उल्लेख जिसे 44वें संविधान संशोधन अधिनियम, 1972 द्वारा ‘आंतरिक अशांति’ को हटाकर उसके स्थान पर ‘सशस्त्र विद्रोह’ किया गया।
  • राष्ट्रीय आपात की घोषणा को संसद के प्रत्येक सदन के समक्ष रखा जाता है तथा एक महीने के अंदर अनुमोदन न मिलने पर यह प्रवर्तन में नहीं रहती, किंतु एक बार अनुमोदन मिलने पर छह माह के लिये प्रवर्तन में बनी रह सकती है।

राष्ट्रीय आपातकाल की उद्घोषणा

1. 1962 से 1968 तक-चीन द्वारा 1962 में अरुणाचल प्रदेश के नेफा क्षेत्र आक्रमण के कारण

2. 1971 से मार्च 1977 तक पाकिस्तान द्वारा भारत के विरुद्ध अघोषित युद्ध छेड़ने के कारण